ESIC CARD BENIFITS IN HINDI

दोस्तों, क्या आप भी ESIC द्वारा चलाई जाने वाली योजना के अंतर्गत आते हैं। या केंद्रीय श्रम मंत्रालय द्वारा कम आय में आने वाले कर्मचारियों के लिए चलाई जाने वाली इस योजना के बारे में जानना चाहते हैं। तो आज का यह लेख आपके लिए काफी जानकारी भरा होना वाला है। आज के इस लेख में हम ESIC योजना से जुड़े हुए कुछ सवालों जैसे ESI कार्ड क्या है?, ESI कार्ड के फायदे के बारे में जानेगें।

ESIC Card क्या हैं-

दोस्तों, अगर आसान भाषा में बात करे। तो ESI का फुल फार्म Employees State Insurance होता है। और हिंदी भाषा में इसका पूरा नाम कर्मचारी राज्य बीमा योजना होता है। इस बीमा योजना  का कार्यभार केन्द्रीय श्रम मंत्रालय के अन्तर्गत आता है। इस ईसआई बीमा योजना के अंतर्गत भारत की सभी निजी कंपनियों,फैक्ट्री तथा कारखानों में काम करने वाले सभी कर्मचारियों, जिनकी मासिक आय 21 हजार या इससे कम है, को स्वास्थ सबंधी लाभ मुहैया कराया जाता है। इसके लिए उन्हें इस कार्ड को बनवाना पड़ता है।

इस कार्ड को लेने के लिए कर्मचारियों को किसी भी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ता है। बस वे जिस कंपनी, फैक्ट्री में कार्यरत हैं। उस कंपनी द्वारा उनके वेतन से कुछ पैसे ESIC को दे दिये जाते हैं। जो हमें भविष्य में स्वास्थ सबंधी लाभ मुहैया कराता है।

इतनी सैलरी होने पर मिलता है फायदा –

निजी कंपनियों, फैक्ट्रीयो तथा कारखानों में काम करने वाले वे सभी कर्मचारी जिनकी मासिक आय 21000 या इससे कम है। इस बीमा योजना के लाभार्थी बन सकते हैं। जबकि दिंव्याग कर्मचारियों के लिए आय की सीमा 25000 रुपये तक की है।

ESIC CARD के फायदे –

दोस्तों आज बहुत से ऐसे कर्मचारी भी है जिन्हें इस ESI कार्ड के बारे में जानकारी नहीं है। जिससे वे ESI के द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य बीमा राशि का लाभ उठा नहीं पाते हैं। तो आज के इस लेख ESIC CARDS BENIFITS IN HINDI में हम इस कार्ड के द्वारा दिये जाने वाले फायदों के बारे में करीब से जानेगें। तो चलिए शुरू करते हैं..

ESIC CARD के फायदे|| ईसआई कार्ड बेनिफिटस इन हिन्दी –

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को कई प्रकार के लाभ उपलब्ध कराये जाते हैं।

#1.  चिकित्सा लाभ-

ईसआई कार्डधारक को और उस पर आश्रित उसके परिवार के सदस्यों को राज्य सरकार की तरफ से चिकित्सा सबंधी सेवाएं उपलब्ध करायी जाती हैं। इस लाभ के अन्तर्गत ESI कार्डधारक किसी भी चिकित्सा संस्थान के माध्यम से चिकित्सा सबंधी लाभ ले सकता है।

#2. आश्रित लाभ –

ESIC Card Kya Hai

इस लाभ के अन्तर्गत यदि किसी ESI कार्डधारक की रोजगार के दौरान मौत हो जाती हैं। तो उस व्यक्ति के परिवार को मासिक पेंशन का भुगतान किया जाता है। इस पेंशन का भुगतान तीन भागों में किया जाता है। 1. कार्डधारक की पत्नी को, 2. कार्डधारक के बच्चों को पेंशन, 3. कार्डधारक के माता-पिता को पेंशन।

#3. बीमारी लाभ-

ESIC अपने कार्ड धारकों को उनकी बीमारी के दौरान ली गयी छुट्टी में 3 महीनों तक का भुगतान करती हैं। कार्डधारक को दिये जाने वाले इस भुगतान की दर उसके दैनिक भुगतान के 50% से कम नहीं होती हैं। अर्थात् उसे हर दिन की आधी से सैलरी का भुगतान किया जाता है।

#4. अक्षमता लाभ –

ESIC द्वारा रोजगार के दौरान चोट लगने के कारण अस्थाई डिसेबिलिटि होने की स्थिति में चोट के पूरी तरह से ठीक न होने तक जबकि स्थाई डिसेबिलिटि होने की स्थिति में पूरे जीवन भर मासिक भुगतान किया जाता है।

#5. मातृत्व लाभ-

ESIC महिला कर्मचारियों को उनकी गर्भावस्था की स्थिति में 26 सप्ताह तक 100% तक दैनिक भुगतान करती हैं।

#6. प्रसूति लाभ –

ऐसे चिकित्सा लाभ जो किसी गर्भवती महिला को ईसआई अस्पताल में मुहैया नहीं हो पाती हैं। ऐसे उपचारों को बाहर कराने के लिए गर्भवती महिला को दो बार 7500 रुपये का भुगतान किया जाता है।

#7. बेरोजगारी भत्ता –

ईसआई कार्डधारक व्यक्ति को चोट लगने पर यदि वह अस्थाई रूप से डिसेबल हो जाता है तो उस व्यक्ति को 24 महीने तक नगद भुगतान किया जाता है।

#8. वृदावस्था लाभ-

ईसआई कार्डधारक रोजगार में अपनी सेवाओं को पूरी करने के बाद किसी भी ESI अस्पतालों में चिकित्सा सम्बन्धी लाभ ले सकता है।

#9. अन्य लाभ-

ESIC किसी भी मृतक कर्मचारी के अंतिम संस्कार के लिए 10000 रुपये तक की राशि का भुगतान करती हैं।

निष्कर्ष

दोस्तों, आज कि इस पोस्ट में हमनें ESI कार्ड से जुड़े कुछ सवालों जैसे ESI CARD क्या हैं? तथा इससे जुड़े हुए फायदों के बारे में जाना है। अगर आज के पोस्ट में बतायी गयी ये जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे अपने सभी दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके। जो इस योजना के अंतर्गत आते हैं।